लोक निर्माण विभाग समय-समय पर फील्ड स्टाफ के लिए तनाव मुक्त शिविर आयोजित करेगा

हिमाचल
Spread the love
शिमला 20 मई,
अतिरिक्त मुख्य सचिव, लोक निर्माण व राजस्व मनीषा नन्दा ने  निर्माण भवन में एक दिवसीय तनाव प्रबंधन व दिनचर्या कार्यशाला का शुभारंभ किया।
मनीषा नन्दा ने इस अवसर पर लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि तनाव प्रबंधन कार्यक्षमता में दक्षता लाने के लिए महत्वपूर्ण है और अधिकारियों को निजी व व्यवसायिक जीवन में सामंजस्य स्थापित करना आवश्यक है।
अतिरिक्त मुख्य सचिव ने कहा कि वर्तमान समय में अनेक कारणों से सभी को अपने जीवन में तनाव का सामना करना पड़ रहा है। ऐसे में यह जरूरी है कि सभी अपनी दिनचर्या में तनाव प्रबंधन को शामिल करें। उन्होंने कहा कि ऐसी कार्यशालाएं जहां तनाव के बेहतर प्रबंधन में सहायक बनती हैं, वहीं कार्यकुशलता एवं कार्यक्षमता में निखार भी लाती है।
मनीषा नन्दा ने कहा कि लोक निर्माण विभाग समय-समय पर फील्ड स्टाफ के लिए तनाव मुक्त शिविर आयोजित करेगा, जिससे उनकी कार्य करने की क्षमता में वृद्धि हो और जीवन में बेहतर समन्वय स्थापित हा सकेे। उन्होंने तनाव प्रबंधन में संगीत की अहम भूमिका पर विस्तृत जानकारी प्रदान की। उन्होंने कहा कि व्यक्ति की कार्यप्रणाली एवं सकारात्मकता बढ़ाने में संगीत की भूमिका सिद्ध है। उन्होंने सभी से आग्रह किया कि अपनी दिनचर्या में संगीत को नियमित स्थान दें।
उन्होंने लोक निर्माण विभाग के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों से आग्रह किया कि कार्यशाला का लाभ उठाएं और अन्य को भी इस दिशा में जागरूक करें। उन्होंने आशा जताई कि यह कार्यशाला तनाव प्रबंधन एवं कार्य कुशलता में सुधार की दिशा में सहायक सिद्ध हो।
मुख्य अभियंता आर के वर्मा ने कार्यशाला का संचालन किया और अतिरिक्त मुख्य सचिव का स्वागत करते हुए उन्हें विभाग की विभिन्न गतिविधियों से अवगत करवाया।
इस अवसर पर अधिशाषी अभियंता, कनिष्ठ अभियंता व विभाग के विभिन्न अधिकारी भी उपस्थित थे।

Leave a Reply