आपदा एवं आपदा बचाव के विषय जागरूक बनाने के लिए नुक्कड़-नाटक का आयोजन किया

हिमाचल
Spread the love

शिमला 04 जून,
जिला आपदा प्रबंधन प्राधिकरण शिमला द्वारा आज यहां लोगों को आपदा एवं आपदा बचाव के विषय जागरूक बनाने के लिए नुक्कड़-नाटक का आयोजन किया गया। यह नुक्कड़-नाटक अंतरराष्ट्रीय शिमला ग्रीष्मोत्सव के तहत आयोजित किया गया।
प्राधिकरण द्वारा नुक्कड़-नाटक आयोजित करने का मुख्य उद्देश्य लोगों को भूकम्प एवं भूस्खलन सहित अन्य आपदाओं के संबंध में जानकारी प्रदान करना था। नुक्कड़-नाटक के तहत लोगों को प्राथमिक उपचार की जानकारी दी गई तथा ये बताया गया कि आपदा के समय चोट इत्यादि लगने की स्थिति में उपस्थित संसाधनों का प्रयोग कैसे किया जाए और घायल व्यक्ति को किस तरह बाहर निकाला जाए।
नुक्कड़-नाटक में जानकारी दी गई कि आपदा के समय सभी के जागरूक होने से बेहतर तरीके से आपदा से निपटा जा सकता है। लोगों को बताया गया कि आपदा से निपटने के लिए तैयारी, प्रबंधन एवं बेहतर समन्वय के साथ कार्य करना आवश्यक है। नुक्कड़-नाटक के माध्यम से अवगत करवाया गया है कि आपदा के आने का कोई समय नहीं होता। आपदा कभी भी आ सकती है। इसलिए आवश्यक है कि आपदा से निपटने के लिए उचित तैयारी की जाए।
नुक्कड़-नाटक का मुख्य उद्देश्य स्थानीय समुदायों को जागरूक कर आपदा प्रबंधन के लिए बेहतर रूप से तैयार करना था।

Leave a Reply