नशा निवारण एवं अवैध तस्करी दिवस के उपलक्ष्य पर 26 जून को आयोजित होंगे जन जागरूकता शिविर

हिमाचल
Spread the love


जिला में 16 से 26 जून तक चलेगा विशेष अभियान  
युवा देश व प्रदेश का भविष्य,  नशे से बचाने को करने होंगे विशेष प्रयास :- उपायुक्त 
हमीरपुर 11 जून। अंतर्राष्ट्रीय नशा निवारण एवं अवैध तस्करी  दिवस के उपलक्ष्य पर जिला में 26 जून को नशा निवारण को लेकर  विभिन्न विभागों द्वारा स्कूलों, कालेजों, एनआईटी, आईटीआई तथा अन्य शिक्षण संस्थानों में नशा के विरूद्ध जन जागरूकता शिविरों का आयोजन किया जाएगा। इस सम्बंध में आज डीसी चैंबर में उपायुक्त हरीकेश मीणा की अध्यक्षता में बैठक का आयोजन किया गया जिसमें विभिन्न विभागों के अधिकारियों ने भाग लिया। उपायुक्त ने स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह नशा के विरूद्ध संपूर्ण जिला में  जन जागरूकता अभियान चलाएं तथा जन मंच कार्यक्रम के दौरान भी नशा को लेकर जागरूकता कैंपों का आयोजन करें। 
            इसी प्रकार शिक्षा विभाग भी सभी स्कूलों में 16 जून से 26 जून तक नशा निवारण पर बच्चों को नशा न करने तथा इससे होने वाले दुष्प्रभावों से जागरूक करेंगे। सभी विभाग इन दस दिनों के दौरान आयोजित होने वाली गतिविधियों को लेकर एक्शन प्लान बनाएं तथा उपायुक्त को इससे अवगत करवाएं। उन्होंने कहा कि जिला में अधिकतर युवक नशा करने तथा बेचने में संलिप्त हैं । उन्होंने कहा कि युवा देश-प्रदेश का भविष्य है इसलिए इन्हें नशे से बचाने के लिए सभी विभागों विशेषकर पुलिस, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण, सामाजिक न्याय एंव अधिकारिता विभाग, शिक्षा विभाग को परस्पर वेहतर तालमेल के साथ अतिरिकत प्रयास करने होंगे ताकि जिला में नशा के प्रयोग तथा कारोवार पर अंकुश लगाया जा सके। उन्होंने कहा कि जिला में नशा के अवैध कारोवार तथा प्रयोग पर अंकुश लगाने में  पुलिस विभाग की अहम भूमिका होती है।  इस अभियान के दौरान पुलिस जन जागरूकता कैंपों का आयोजन करने के साथ-साथ नशे के अवैध कारोबार तथा प्रयोग पर अपनी मुहिम को जारी रखेगी।  
      उन्होंने कहा कि  इस अभियान के दौरान जिला के  समस्त विभाग अपने-अपने कार्यालय के पास उगे भांग के पौधे को उखाडक़र नष्ट  करेंगे। लोक निर्माण विभाग विशेषकर सडक़ किनारे उगे भांग के पौधों तथा सभी विकास खंड अधिकारी अपने-अपने विकास खंड की तमाम पंचायतों में अभियान के दौरान उगी भांग को उखाडक़र नष्ट करवाना सुनिश्चित करेंगे। सभी एसडीएम पुलिस विभाग के साथ मिलकर इस अभियान के दौरान कालेजों , एनआईटी में नशा निवारण पर बच्चों को नशे के दुष्प्रभावों बारे जागरूक करेंगे । जिला खेल अधिकारी भी जिला में इस दौरान यूथ क्लबों के माध्यम से युवाओं को नशे से दूर रहने को प्रेरित करेंगे।  ग्रामीण स्तर खेल गतिविधियों को बढ़ाएंगे ताकि अधिक से अधिक युवा खेल गतिविधियों से जुडक़र नशा जैसी बुराई से दूर रह सकें। 
          इस अवसर पर एसडीएम हमीरपुर शशिपाल नेगी, एसडीएम नादौन डीआर धीमान, सहायक आयुक्त सुनयना शर्मा, सीएमओ डा0 अर्चना सोनी  उप शिक्षा निदेशक (उच्चतर)जसवंत सिंह, जीएम डीआईसी विजय चौधरी, जिला कल्याण अधिकारी संजीव शर्मा के अतिरिक्त अन्य विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।     

Leave a Reply