शिमला स्थित आरट्रेक शिफ्ट करने के केंद्र के   किसी भी प्रस्ताव का पुरजोर विरोध करें।

हिमाचल
Spread the love

शिमला ,14 जून 2019

   हिमाचल प्रदेश कांग्रेस ने प्रदेश के सभी राजनैतिक दलों,सामाजिक संगठनों व आम लोगों का आह्वान किया है कि   शिमला स्थित आरट्रेक शिफ्ट करने के केंद्र के   किसी भी प्रस्ताव का दलगत राजनीति से ऊपर उठ कर पुरजोर विरोध करें। कांग्रेस ने प्रदेश सरकार से भी इस पर अपनी स्थिति स्पष्ट करने को कहा हैं,और पूछा है कि उन का इस प्रस्ताव पर क्या स्टैंड है।

       प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने आज यहां कहा कि शिमला से आरट्रेक को किसी भी सूरत में शिफ्ट नही किया जाना चाहिए।उन्होंने कहा कि शिमला का बर्तमान आरट्रेक जो कभी वेस्टर्न कमांड के रूप में स्थापित था अपने कई ऐतिहासिक व राजनैतिक महत्व की यादें अपने में संजोय हुए है और सेना के पराक्रम की अनेक यादे भी इस से जुड़ी है जिस पर प्रदेश को गर्व है।उन्होंने कहा कि शिमला में इस का अपना ही एक विशेष महत्व है जो पूर्व में वेस्टर्न कमांड और आज सेना प्रशिक्षण कमान के रूप में जाना जाता है। शिमला के मालरोड़ पर इसका अपना भव्य भवन और परिसर अपने आप मे ही एक अदभुत दृश्य सभी को अपनी ओर आकर्षित करता है।

         राठौर ने कहा है कि इस के अतिरिक्त शिमला के उपनगर टुटू जतोग में भी आरट्रेक व सेना का अपना एक बेहतर परिसर है इस लिये प्रदेश में इस का महत्व और भी बढ़ जाता है। उन्होंने कहा कि शिमला में इस के ऐतिहासिक धरोहर और महत्व से लोगों की भाबनाये जुड़ी है।इसलिए इस से किसी भी प्रकार की छेड़ छाड़ करने का कोई प्रयास नही किया जाना चाहिए।

राठौर ने कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा की मांग का समर्थन करते हुए कहा है कि प्रदेश कांग्रेस उनकी मांग के साथ खड़ी है।उनका कहना है कि रक्षा मंत्री के साथ साथ यह पूरा मामला प्रधानमंत्री के समक्ष भी रखा जाना चाहिए जिस से आरट्रेक के शिमला से शिफ्ट करने की किसी भी चर्चा पर जल्द विराम लग सकें।

Leave a Reply