प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत बचत भवन में आयोजित बैठक

हिमाचल
Spread the love

शिमला 18 अक्तूबर,
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग भारत सरकार द्वारा प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के तहत वर्ष 2018-19 व 2019-20 के लिए जिला शिमला से 20 अनुसूचित जाति बहुतुल्य गांव का चयन आदर्श गांव बनाने हेतु किया गया है। यह विचार आज अतिरिक्त उपायुक्त जिला शिमला अपूर्व देवगन ने प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत बचत भवन मंे आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किए।

उन्होंने बताया कि केन्द्र सरकार द्वारा चयनित गांव के लिए 21 लाख रुपये प्रति गांव को धनराशि प्रदान की जाएगी, जिसमें से 20 लाख रुपये की राशि चयनित गांव में गैप-फिलिंग के अंतर्गत खर्च की जाएगी तथा शेष एक लाख रुपये प्रति गांव को प्रशासनिक और अन्य खर्चों पर वहन की जाएगी। इस कार्य को गति प्रदान करने के उद्देश्य से सर्वेक्षण, मूल्यांकन कार्य किया जा रहा है, जिसके उपरांत ग्राम विकास योजना तैयार की जाएगी।

उन्होंने बताया कि इस योजना के अंतर्गत 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जाति की आबादी वाले गांव में से केवल उन्हीं गांव को चयनित किया गया है, जिनकी आबादी 500 से अधिक है।
उन्होंने बताया कि जिला शिमला में योजना के अंतर्गत चिन्हित 20 गांव में से चैपाल तहसील से तीन, कुमारसैन तहसील से दो, शिमला ग्रामीण से तीन, रामपुर तहसील से छः, रोहडू तहसील से दो, ठियोग से एक तथा चिड़गांव से एक गांव शामिल है।
उन्होंने बताया कि आदर्श गांव बनाने हेतु भारत सरकार द्वारा 10 बिंदु पेयजल व सफाई समस्या, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं पोषाहार, सामाजिक सुरक्षा, ग्रामीण सड़क व मकान, बिजली व ईंधन, कृषि, आर्थिक आधार, डिजिटाइजेशन, जीवन स्तर व कौशल विकास निर्धारित किए गए हैं।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना के अंतर्गत ग्राम स्तर पर समिति का गठन किया गया है, जिसका अध्यक्ष पंचायत प्रधान, समन्वयक तहसील कल्याण अधिकारी व विभिन्न विभागों के अधिकारी, संबंधित पंचायत के सभी अनुसूचित जाति के पंचायत सदस्य इस समिति के सदस्य है।
इस अवसर पर उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा की जाने वाली आवश्यक कार्यवाही के आवश्यक दिशा-निर्देश दिए व पंचायत प्रतिनिधियों के साथ समन्वय स्थापित करने की अपील की।
उन्होंने कहा कि आने वाली ग्राम सभा में इन पंचायतों में सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं के लिए जागरूकता शिविर का भी आयोजन किया जाएगा।
इस अवसर पर जिला कल्याण अधिकारी हाकम सिंह चैहान, विभिन्न विभागों के उच्च अधिकारी व चयनित पंचायतों के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

Leave a Reply