अनारदाना….वात, पित्त, कफ का करे नाश

लाइफस्टाइल
Spread the love

अनार के सुखाए गए बीज को अनार दाना कहते हैं। दक्षिण हिमालय में उगने वाले दारू नामक अनार के जंगली विकल्प से बेहतरीन प्रकार के अनारदाना प्राप्त होते हैं। बीज सुखाते समय, थोड़ी बहुत मात्रा में अनार का गूदा रह जाता है इसलिए भारतीय पाकशैली में इन फल जैसे हल्के खट्टे मीठे स्वाद वाले, थोड़े चिपचिपे दानों का प्रयोग खट्टापन प्रदान करने के लिए किया जाता है। इनका प्रयोग अकसर सब्ज़ी और दाल आधारित व्यंजन के साथ-साथ मुगलाई व्यंजन में किया जाता है। भुने और पिसे हुए अनारदाना को नींबू के रस की जगह ऐसी जगह प्रयोग किया जाता है, जहां कुछ मौसमों में नींबू नहीं मिलता। भारतीय खाने में अनारदाना का प्रयोग खाने में खट्टपन प्रदान करने के लिए किया जाता है, जिसका प्रयोग इमली, कोकम या अमचूर की तरह किया जाता है।

Leave a Reply