आईटीआई चांदपुर में एड्स जागरूकता दिवस मआईटीआई चांदपुर में एड्स जागरूकता दिवस मनाया गया

Spread the love
Read Time1Second

बिलासपुर 3 दिसम्बर – जिला स्तरीय विश्व एड्स जागरूकता अभियान के अंतर्गत
डोगरा आईटीआई चांदपुर में एड्स जागरूकता दिवस मनाया गया। जिसकी अध्यक्षता
मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिलासपुर डॉक्टर प्रकाश चंद्र दरोच ने की। इस
अवसर पर स्वास्थ्य शिक्षक प्रवीण शर्मा व विजय शर्मा ने डोगरा औद्योगिक
संस्थान व जीवन ज्योति एएनएम स्कूल चांदपुर के सभी प्रशिक्षणार्थियों को
एड्स के बारे में जागरूक करते हुए बताया कि एड्स अकेला रोग नहीं है बल्कि
उन रोगों के समूह को दर्शाता है जो एचआईवी संक्रमित व्यक्ति को उस समय
में अपने चपेट में ले लेते हैं जब उसके शरीर की प्रतिरक्षा क्षमता
धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है। एड्स का निदान कुछ रक्त परीक्षणों के आधार
पर ही किया जा सकता है।

उन्होने बताया कि एड्स शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को आघात पहुंचाता है।
प्रतिरक्षण प्रणाली हमारे शरीर की ऐसी व्यवस्थाओं का तंत्र है जो संक्रमण
से हमारी रक्षा करता है ।यह सुरक्षा तंत्र शरीर में रोग बाह्को या बाहरी
हमलावरों जैसे वायरस, बैक्टीरिया आदि की पहचान करता है और उनका खात्मा
करता है। एचआईवी एक वायरस है जो प्रणाली विशेषकर शरीर की कोशिकाओं पर
हमला करता है और उन्हें नष्ट कर देता है। यह कोशिकाएं विभिन्न रोगों से
शरीर की रक्षा करने में मदद करती है। जब किसी व्यक्ति को एचआईवी का
संक्रमण हो जाता है तो उस व्यक्ति की कोशिकाओं में घुसकर एचआईवी प्रजनन
के जरिए अपनी संख्या बड़ी तेजी से बढ़ाता है और इस दौरान कोशिका में इतने
नए वायरस पैदा हो जाते हैं कि कोशिका खंडित हो जाती है जिससे अनेक वायरस
रक्त प्रवाह में प्रवेश कर जाते हैं। उन्होने बताया कि ऐसे संक्रमण की
मौजूदगी जो विशेषकर घाव, फोड़ा, फुंसी और डिस्चार्ज के जरिए होते हैं से
एचआईवी का जोखिम 10 गुना बढ़ जाता है। यौन रोगों व प्रजनन मार्ग के होने
वाले रोगों का तुरंत डॉक्टर से ही उपचार कराएं। नीम हकीम ओ से बचें।
सुरक्षित यौन संपर्क करें।
एड्स जागरूकता दिवस पर संस्थान में भाषण प्रतियोगिता व स्लोगन राइटिंग
प्रतियोगिता भी करवाई गई भाषण प्रतियोगिता में 9 बच्चों ने भाग लिया
जिनमें फर्स्ट इनाम सिरा को गया द्वितीय साक्षी व कोमल एएनएम छात्रा को
गया । थर्ड प्राइस श्वेता एएनएम छात्रा को दिया गया। स्लोगन राइटिंग
प्रतियोगिता में शिल्पा एएनएम को फर्स्ट, अभिषेक आईटीआई को सेकंड व
चांदनी एएनएम छात्रा को थर्ड प्राइस दिया गया। इसमें स्कूल के स्टाफ सहित
लगभग 125 लोगों ने भाग लिया।नाया गया

बिलासपुर 3 दिसम्बर – जिला स्तरीय विश्व एड्स जागरूकता अभियान के अंतर्गत
डोगरा आईटीआई चांदपुर में एड्स जागरूकता दिवस मनाया गया। जिसकी अध्यक्षता
मुख्य चिकित्सा अधिकारी बिलासपुर डॉक्टर प्रकाश चंद्र दरोच ने की। इस
अवसर पर स्वास्थ्य शिक्षक प्रवीण शर्मा व विजय शर्मा ने डोगरा औद्योगिक
संस्थान व जीवन ज्योति एएनएम स्कूल चांदपुर के सभी प्रशिक्षणार्थियों को
एड्स के बारे में जागरूक करते हुए बताया कि एड्स अकेला रोग नहीं है बल्कि
उन रोगों के समूह को दर्शाता है जो एचआईवी संक्रमित व्यक्ति को उस समय
में अपने चपेट में ले लेते हैं जब उसके शरीर की प्रतिरक्षा क्षमता
धीरे-धीरे समाप्त हो जाती है। एड्स का निदान कुछ रक्त परीक्षणों के आधार
पर ही किया जा सकता है।
उन्होने बताया कि एड्स शरीर की प्रतिरक्षा प्रणाली को आघात पहुंचाता है।
प्रतिरक्षण प्रणाली हमारे शरीर की ऐसी व्यवस्थाओं का तंत्र है जो संक्रमण
से हमारी रक्षा करता है ।यह सुरक्षा तंत्र शरीर में रोग बाह्को या बाहरी
हमलावरों जैसे वायरस, बैक्टीरिया आदि की पहचान करता है और उनका खात्मा
करता है। एचआईवी एक वायरस है जो प्रणाली विशेषकर शरीर की कोशिकाओं पर
हमला करता है और उन्हें नष्ट कर देता है। यह कोशिकाएं विभिन्न रोगों से
शरीर की रक्षा करने में मदद करती है। जब किसी व्यक्ति को एचआईवी का
संक्रमण हो जाता है तो उस व्यक्ति की कोशिकाओं में घुसकर एचआईवी प्रजनन
के जरिए अपनी संख्या बड़ी तेजी से बढ़ाता है और इस दौरान कोशिका में इतने
नए वायरस पैदा हो जाते हैं कि कोशिका खंडित हो जाती है जिससे अनेक वायरस
रक्त प्रवाह में प्रवेश कर जाते हैं। उन्होने बताया कि ऐसे संक्रमण की
मौजूदगी जो विशेषकर घाव, फोड़ा, फुंसी और डिस्चार्ज के जरिए होते हैं से
एचआईवी का जोखिम 10 गुना बढ़ जाता है। यौन रोगों व प्रजनन मार्ग के होने
वाले रोगों का तुरंत डॉक्टर से ही उपचार कराएं। नीम हकीम ओ से बचें।
सुरक्षित यौन संपर्क करें।
एड्स जागरूकता दिवस पर संस्थान में भाषण प्रतियोगिता व स्लोगन राइटिंग
प्रतियोगिता भी करवाई गई भाषण प्रतियोगिता में 9 बच्चों ने भाग लिया
जिनमें फर्स्ट इनाम सिरा को गया द्वितीय साक्षी व कोमल एएनएम छात्रा को
गया । थर्ड प्राइस श्वेता एएनएम छात्रा को दिया गया। स्लोगन राइटिंग
प्रतियोगिता में शिल्पा एएनएम को फर्स्ट, अभिषेक आईटीआई को सेकंड व
चांदनी एएनएम छात्रा को थर्ड प्राइस दिया गया। इसमें स्कूल के स्टाफ सहित
लगभग 125 लोगों ने भाग लिया।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
%d bloggers like this: