नशे के दुष्प्रभावों के प्रति आम जनमानस में जागरूकता

Spread the love
Read Time0Seconds

चंबा, 3 दिसंबर

अंतर्राष्ट्रीय विकलांग दिवस के अवसर पर नशे के दुष्प्रभावों के प्रति आम जनमानस में जागरूकता पैदा करने के लिए नशा निवारण अभियान के तहत आज उपमंडल अधिकारी नागरिक भटियात बचन सिंह की अध्यक्षता में पैराडाइज चिल्ड्रन केयर सेंटर चुवाडी में कार्यक्रम का आयोजन किया गया ।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इन विशेष बच्चों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं होती। उन्होंने अभिभावकों का आह्वान करते हुए कहा कि बच्चों की रुचि को ध्यान में रखते रखकर उन्हें प्रोत्साहित करें । उन्होंने इस अवसर पर समाज में मादक द्रव्यों के सेवन से उत्पन्न होने वाले दुष्प्रभावों की जानकारी से भी उपस्थित लोगों को अवगत कराया । कार्यक्रम के दौरान विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का भी आयोजन किया । कार्यक्रम में प्रियदर्शनी बीएड कॉलेज के प्रशिक्षु भी इस अवसर पर उपस्थित रहे । इसके अतिरिक्त सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सौजन्य से जिले में विभिन्न स्थानों पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए । उधर जिला कल्याण अधिकारी नरेंद्र जरयाल ने जानकारी देते हुए बताया कि नशा निवारण अभियान के तहत ग्राम पंचायत बाथरी के प्रांगण में तहसील कल्याण अधिकारी डलहौजी द्वारा नशा निवारण अभियान के अंतर्गत जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया । शिविर के दौरान स्थानीय लोग, महिला मंडल, युवक मंडल व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया । इस अवसर पर स्थानीय पंचायत प्रधान वंदना भी विशेष रूप से उपस्थित रहीं । कार्यक्रम के दौरान तहसील कल्याण अधिकारी राजबहादुर ने उपस्थित लोगों को नशे के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में विस्तृत जानकारी दी । उन्होंने समाज में नशे के खात्मे के लिए लोगों से अपना योगदान सुनिश्चित करने का भी आह्वान किया । उन्होंने ड्रग फ्री हिमाचल ऐप की जानकारी भी लोगों को प्रदान की । इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत बाथरी श्रीमती वंदना ने भी नशे के घातक दुष्परिणामों पर उपस्थित लोगों को महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत करवाया । इसके अतिरिक्त राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मंजीर व राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला उदयपुर में भी नशे के दुष्प्रभावों के प्रति जागरूकता लाने के लिए समूह वार्ता का आयोजन किया गया । राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सियूंता व भलेई में जागरूकता शपथ का भी आयोजन किया गया ।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इन विशेष बच्चों में प्रतिभा की कोई कमी नहीं होती। उन्होंने अभिभावकों का आह्वान करते हुए कहा कि बच्चों की रुचि को ध्यान में रखते रखकर उन्हें प्रोत्साहित करें । उन्होंने इस अवसर पर समाज में मादक द्रव्यों के सेवन से उत्पन्न होने वाले दुष्प्रभावों की जानकारी से भी उपस्थित लोगों को अवगत कराया । कार्यक्रम के दौरान विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का भी आयोजन किया । कार्यक्रम में प्रियदर्शनी बीएड कॉलेज के प्रशिक्षु भी इस अवसर पर उपस्थित रहे । इसके अतिरिक्त सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के सौजन्य से जिले में विभिन्न स्थानों पर जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए गए । उधर जिला कल्याण अधिकारी नरेंद्र जरयाल ने जानकारी देते हुए बताया कि नशा निवारण अभियान के तहत ग्राम पंचायत बाथरी के प्रांगण में तहसील कल्याण अधिकारी डलहौजी द्वारा नशा निवारण अभियान के अंतर्गत जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया । शिविर के दौरान स्थानीय लोग, महिला मंडल, युवक मंडल व आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने भाग लिया । इस अवसर पर स्थानीय पंचायत प्रधान वंदना भी विशेष रूप से उपस्थित रहीं । कार्यक्रम के दौरान तहसील कल्याण अधिकारी राजबहादुर ने उपस्थित लोगों को नशे के सेवन से होने वाले दुष्प्रभावों के बारे में विस्तृत जानकारी दी । उन्होंने समाज में नशे के खात्मे के लिए लोगों से अपना योगदान सुनिश्चित करने का भी आह्वान किया । उन्होंने ड्रग फ्री हिमाचल ऐप की जानकारी भी लोगों को प्रदान की । इस अवसर पर प्रधान ग्राम पंचायत बाथरी श्रीमती वंदना ने भी नशे के घातक दुष्परिणामों पर उपस्थित लोगों को महत्वपूर्ण जानकारियों से अवगत करवाया । इसके अतिरिक्त राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय मंजीर व राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला उदयपुर में भी नशे के दुष्प्रभावों के प्रति जागरूकता लाने के लिए समूह वार्ता का आयोजन किया गया । राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला सियूंता व भलेई में जागरूकता शपथ का भी आयोजन किया गया ।

0 0
0 %
Happy
0 %
Sad
0 %
Excited
0 %
Angry
0 %
Surprise

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Close
%d bloggers like this: